अबू बकर का नाम आसमानो में भी सिद्दीक

कानपुर – इस्लाम के पहले खलीफा हजरत अबू बकर सिद्दीक की याद में एक जलसा एम.एस.ओ. कानपुर यूनिट और तहरीक फरोग ए इस्लाम शाख कानपुर की जानिब से रोशन नगर स्थित गौसिया मस्जिद में आयोजित हुआ, जिसकी सरपरस्ती काज़ी ए शहर कानपुर मुफ्ती साकिब अदीब मिस्बाही साहब ने की और सदारत मौलाना असगर अली यार अल्वी साहब ने की और संचालन गौसिया मस्जिद के पेश इमाम हाफिज़ रिज़वान साहब ने किया.

प्रोग्राम में मुख्य वक्ता तहरीक फरोग ए इस्लाम के बानी मौलाना कमर गनी उस्मानी साहब रहे और उन्होंने नामूस ए रिसालत पर तकरीर की और कहा कि मुसलमान सब कुछ तो बरदाश्त कर सकता है लेकिन अपने नबी की शान में गुस्ताखी बिल्कुल भी बरदाश्त नहीं करेगा.

शहरकाज़ी कानपुर मुफ्ती साकिब अदीब मिस्बाही साहब ने भी तकरीर की और उन्होंने इस्लाम के पहले खलीफा हज़रत अबू बकर सिद्दीक की ज़िन्दगी पर रौशनी डाली और कहा कि हज़रत अबू बकर सिद्दीक को आसमानो के ऊपर भी सिद्दीक के नाम से जाना जाता है, आप सब हज़रत अबू बकर सिद्दीक की तरह आशिके रसूल बनो और उनकी तरह अपने नबी से मुहब्बत करो.

शहरकाज़ी साहब ने बताया कि इस्लामी महीना जमादी उस्सानी की 22 तारीख को हज़रत अबू बकर सिद्दीक र.ह. का यौमे वफात है सभी लोग अपने अपने घरों में ईसाले सवाब की मेहफिल ज़रुर मुनक्किद करे. प्रोग्राम में मुख्य रूप से एम.एस.ओ. कानपुर यूनिट के सदर वासिक बेग बरकाती, तहरीक फरोग़ ए इस्लाम कानपुर यूनिट के सदर शाहरुख रज़ा हुसैनी, काकादेव मस्जिद के पेशइमाम मौलाना आफताब आलम, कारी कलीम नूरी, साकिब बरकाती, हाफिज़ आसिफ़ रज़ा, सुहैल कादरी, हस्सान अली रज़वी, आदि लोग मौजूद रहे.

Latest articles

46,417FansLike
5,515FollowersFollow
6,254FollowersFollow

Related articles

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

46,417FansLike
5,515FollowersFollow
6,254FollowersFollow

Events